मानव संसाधन विकास एवं प्रशिक्षण प्रभाग

मानव संसाधन विकास एवं प्रशिक्षण प्रभाग, बिहार, पटना का प्रशिक्षण निदेशालय दो प्रकार के प्रशिक्षण आयोजित करता है।

 

बुनियादी प्रशिक्षण

जो नए भर्ती किए गए सिपाही को प्रशिक्षित करने के लिए है, जिन्हें केन्द्रीय चयन पर्षद सिपाही भर्ती के माध्यम से चयनित किया जाता है ।

 

सेवाकालीन प्रशिक्षण

सेवाकालीन प्रशिक्षण के क्रम में सिपाहियों से एएसआई/हवलदार में पदोन्नति हेतु उनकी योग्यता के अनुसार पूर्व पदोन्नति प्रशिक्षण क्रमशः पीटीसी और एसएलसी आयोजित करता है।

इसके अतिरिक्त समसामयिक एवं संवेदनशील विषयों पर भी अल्प अवधि के सेवाकालीन प्रशिक्षण कार्यक्रम को भी प्रशिक्षण निदेशालय आयोजित करता है। सेवाकालीन प्रशिक्षण का  उद्देश्य व्यक्तियों के ज्ञान और कौशल को उन्नत करना और उन्हें यह सिखाना है कि कैसे एक साथ नेतृत्व गुणों को विकसित करते हुए तनाव मुक्त रहें। प्रशिक्षण निदेशालय केंद्र सरकार के संगठनों (अन्य राज्य सरकार की एजेंसियां) द्वारा प्रायोजित किए गए प्रशिक्षण कार्यक्रमों का समन्वय और संचालन भी करता है।

मानव संसाधन विकास एवं प्रशिक्षण प्रभाग, देश और विदेश में विभिन्न संस्थानों/ प्रशिक्षण केंद्रों से प्रशिक्षण के लिए आईपीएस  अधिकारियों से लेकर सिपाही स्तर तक के नामांकन के लिए नोडल केंद्र है।

 

मानव संसाधन विकास एवं प्रशिक्षण प्रभाग का नेतृत्व पुलिस महानिदेशक (प्रशिक्षण) करते हैं जिनकी सहायता पुलिस महानिरीक्षक (प्रशिक्षण), और सहायक पुलिस महानिरीक्षक (प्रशिक्षण) करते हैं।